Breking News,jhalko Jhunjhunu

Breaking News :गर्मियों में आजकल ठंडा पानी सबको पसंद है तथा फ्रिज का ठंडा पानी हमें बहुत राहत देता है लेकिन इसके साथ ही हमारी सेहत को भी बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता है तथा फ्रिज खरीदना हर किसी के लिए संभव ही नहीं है वर्तमान में लगभग 37% ऐसे घर मिलेंगे जिनके पास फ्रिज नहीं है यदि आपको बताया जाए कि बिजली के बिना चलने वाला कोई फ्री है जिसमें पानी से लेकर फल सब्जी सभी चीजें एकदम फ्रेश और ठंडी रखी जा सकती हैं तो आपको विश्वास नहीं होगा।

Breaking News,jhalki jhunjhunu

Breaking News: मनसुखभाई:

लेकिन दर से गुजरात के रहने वाले मनसुख प्रजापति ने बिना दिल्ली से चलने वाला फ्रिज का आविष्कार किया है मंदसौर का फ्रिज पूरी तरह से इको फ्रेंडली है तथा इसके दाम भी ज्यादा नहीं है इसके साथ ही कई दिनों तक पानी दूध फल इत्यादि एकदम फ्रेश रहता है

इसके साथ ही मनसुख ट्रेडिशनल तरीकों को छोड़कर नई तकनीक से मिट्टी के बर्तन बनाने का भी काम कर रहे हैं वर्तमान में मनसुखभाई मिट्टी कूल नाम से बिजनेस चला रहे हैं और इनका कारोबार इतनी तेजी से चल रहा है कि यह सालाना लगभग तीन करोड़ से ज्यादा कमा रहे हैं।

Breking News,jhalko Jhunjhunu

Breaking News: मनसुखभाई ;इसमें चौंकाने वाली और दिलचस्प बात यह है कि मनसुखभाई दसवीं पास नहीं कर पाए थे और उन्होंने दसवीं में फेल होने के बाद आगे की पढ़ाई नहीं की और वहीं छोड़ दी थी। वह कुम्हार परिवार से हैं उनके परिवार के लोग पिछले सालों से ही मिट्टी के बर्तन बनाने का काम करते थे जिस से ज्यादा कोई मोटी कमाई नहीं थी इसके तहत मनसुख का बचपन काफी गरीबी में निकला था।

मनसुखभाई ने बताया कि उनकी मां सुबह 4:00 बजे उठकर मिट्टी लाने के लिए जाती थी तथा उसके बाद पिता और परिवार के सदस्य के लोग मिट्टी का बर्तन बनाते थे लेकिन मेहनत के हिसाब से उन्हें कमाई नहीं मिल पाती थी जिससे गुजारा थोड़ा मुश्किल था

उनके माता-पिता तो चाहते थे कि वह पढ़ लिख कर समाज की बेटियों तोड़े और कुछ अच्छा कर दिखाएं कोई बड़ा इंसान बने आम और शोहरत कमाएं। पढ़ाई में वह थोड़े कमजोर थे और दसवीं क्लास में फेल हो गए और फिर उन्होंने आगे पढ़ाई नहीं करने का फैसला लिया पढ़ाई लिखाई छोड़ दी।

Breaking News: मनसुखभाई:पढ़ाई लिखाई छूटने के बाद 15 साल की उम्र में उनके पिता ने उनके लिए चाय की दुकान खोली जिससे मनसुख वहां चाय बेचने लगे। उन्होंने बताया कि 1 दिन उनकी दुकान पर चाय पीने के लिए मिट्टी से बने कबेलू यानी खपरैल बनाने वाली फैक्ट्री के मालिक आए थे। और उस फैक्ट्री के मालिक ने उन्हें उनकी फैक्ट्री में काम करने के लिए ऑफर दिया तथा उसी मोड़ पर उनकी जिंदगी बदल गई और जिंदगी की नई शुरुआत हुई।

लोन लेकर बिजनेस की शुरुआत की

Breaking News: मनसुखभाई: मनसुखभाई को कबेलू  की फैक्ट्री में काम करने पर सिर्फ ₹300 मिलते थे जो बेहद कम थे इसके बाद उन्होंने अपना खुद का बिजनेस शुरू करने का निश्चय किया।

बिजनेस शुरू करने के लिए मंजू भाई ने अपने जानकार के किसी सेठ से ₹50000 उधार मांगे लेकिन उनके परिवार वाले इस बात के लिए सहमत नहीं थे घरवालों को डर था कि इतने पैसे वह चुकाएगा कैसे। फिर उन्होंने ₹30000 लेकर अपने बिजनेस की शुरुआत की।

मनसुखभाई मिट्टी का तवा बनाने वाली मशीन का इनोवेशन  किया ऐसा उन्होंने पोलूशन को कंट्रोल करने के लिए डिजाइन किया था। तथा इसके साथ ही उन्होंने 2200 स्क्वायर फीट जमीन पर अपना सेटअप लगाकर काम शुरू किया जो एक बहुत बड़ी शुरुआत थी। लगभग 2 साल मेहनत करने के बाद साल 1990 में मनसुख भाई को सफलता देखने को मिली। यह सफलता मिलने के बाद उन्होंने मिट्टी का वॉटर प्यूरीफायर बनाया।

Breaking News,jhalko Jhunjhunu

गरीब लोगों के लिए बनाया मिट्टी का फ्रिज

Breaking News :मनसुखभाई: धीरे धीरे उनका बिजनेस तेजी से बढ़ रहा था तभी साल 2001 में गुजरात भूकंप की वजह से मनसुख को काफी नुकसान उठाना पड़ा या मानो उन्हें बहुत जोर का घाटा हुआ इसके बाद उन्होंने बिजली के बिना चलने वाले फ्रिज बनाने की सोची । इतने में उन्हें लगभग 2 साल का समय लगा।

मिट्टी से बनाए गए इस फ्रीज में 5 से 6 दिनों तक फल, सब्जी दूध, दही  ताजा रहते हैं इसके साथ ही इसके अंदर दबाव पुराने सामान को भी रख सकते हैं यह फ्रिज पूरी तरह से इको फ्रेंडली है।

250 से ज्यादा तरह के प्रोडक्ट तैयार किए

बिजली के बिना चलने वाले फ्रिज की अपार सफलता के बाद मनसुखभाई ने सन 2002 में लगभग ₹700000 का लोन लेकर वाकानेर में मिट्टिकुल नाम से अपनी खुद की कंपनी की शुरुआत की। वर्तमान समय में मनसुखभाई 250 से भी ज्यादा समान बनाकर उनको मार्केट में ला रहे हैं। उनके पास किचन में इस्तेमाल होने वाला हर समान मिट्टी से बना मिलेगा तथा इसके साथ ही उन्होंने बहुत बेरोजगारों को रोजगार भी दिया है उन्होंने लगभग 250 से ज्यादा महिलाओं को रोजगार दे रखा है।

Breking News, jhalko Jhunjhunu

अपनी काबिलियत की वजह से अनेक अवार्ड भी पा चुके हैं

Breaking News: मनसूखभाई: मनसुखभाई को उनके इस अनोखे ओवेशन के लिए बहुत बार अवार्ड भी दिए जा चुके हैं एक बार उन्हें पहली सरकार द्वारा भी सम्मानित किया गया था तथा उन्हें भारत के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम प्रतिभा पाटिल और प्रणव मुखर्जी से भी बहुत बार कई सारे नेशनल अवार्ड मिल चुके हैं जो खुद के लिए एक बहुत बड़ी सफलता है

Breking News,jhalko Jhunjhunu

मनसुखभाई को गुजरात के गौरव से भी सम्मानित किया जा चुका है तथा वहीं अमेरिका की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और सीबीएसई के 11वीं क्लास में उनकी जीवन कथनी और इनोवेशन का एक पाठ भी पढ़ाया जाता है। जो खुद के लिए एक बहुत बड़ी बात है इससे मनसुख भाई ने देश का नाम रोशन किया है।

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.